Coronavirus India: आईआईटी दिल्ली ने बनाया N95 जैसा 'कवच मास्क', कीमत मात्र 45 रुपए

By Careerindia Hindi Desk

Coronavirus India: हेल्थकेयर सेक्टर को सपोर्ट करने के लिए आईआईटी दिल्ली ने स्टार्ट-अप के तहत कोरोनावायरस महामारी कोविड-19 से बचाव के लिए कवच मास्क लॉन्च किया है। आईआईटी दिल्ली द्वारा डवलप कवच मास्क थ्री लेयर में बनाया गया है, जो 98 प्रतिशत तक वायरस के प्रकोप से बनाचाने में कारगर है, कवच मास्क एन95 मास्क के बराबर है। आईआईटी दिल्ली ने कहा कि कवच मास्क का विकास हमारी स्वदेशी विनिर्माण क्षमताओं का एक परिणाम है।

Coronavirus India: आईआईटी दिल्ली ने बनाया N95 जैसा 'कवच मास्क', कीमत मात्र 45 रुपए

 

आईआईटी दिल्ली के कपड़ा और फाइबर इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर बिपिन कुमार ने कहा कि आईआईटी दिल्ली में कोर टेक्सटाइल टीम ने जिस कवच मास्क को बनाया है, उसकी कीमत 45 रुपए रखी गई है। जबकि भारतीय बाजार में कोविड -19 से सुरक्षा के लिए उपयोग किए जाने वाले एन 95 मास्क की कीमत काफी अधिक है। कुछ लोग सर्जिकल मास्क का भी उपयोग कर रहे हैं, लेकिन वह काफी मास्क ढीले-ढाले होने के कारण नाक और मुंह के आस-पास को सही से कवर नहीं कर पाते हैं, इससे कोविड -19 वायरस का खतरा बढ़ सकता है।

Online Web Design Courses: वेब डिजाइन क्या है? फ्री ऑनलाइन वेब डिजाइन कोर्स की लिस्ट

Top 10 Online Digital Marketing Course: ये हैं टॉप 10 ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग कोर्स की लिस्ट

Professional Photography Online Courses: प्रोफेशनल फोटोग्राफर ऑनलाइन कोर्स की पूरी जानकारी

 

प्रोफेसर बिपिन कुमार ने कहा कि भारत में कई बड़ी चुनौतियां हैं - पीपीई के निपटान (including mask and coveralls) एक समय के उपयोग के बाद और पीपीई बनाने के लिए गैर-बुना प्रौद्योगिकी का न्यूनतम उपयोग सुनिश्चित करना। हालांकि एक गैर-बुना परत वांछित निस्पंदन स्तर सुनिश्चित करने के लिए होनी चाहिए, लेकिन ढीली रेशेदार संरचना एक उपयोग के बाद उत्पाद को डिस्पोजेबल बनाती है। सिंथेटिक पॉलीप्रोपाइलीन के गैर-बुने जाने से पर्यावरण पर हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है। अन्य कपड़ा समाधान ढूंढना जो पुन: प्रयोज्य, बायोडिग्रेडेबिलिटी प्रदान करता है। पीपीई के लिए सामर्थ्य और मापनीयता समय की आवश्यकता है, इससे मांग को पूरा करना और हमारे पर्यावरण की सुरक्षा भी सुनिश्चित हो सकती है।

इसके अलावा, कम से कम 10 बार धोने योग्य और पुन: प्रयोज्य बनाने के लिए टीम मास्क के लिए नए प्रोटोटाइप डिजाइनों पर भी काम कर रही है। यह सबसे किफायती और प्रभावी तरीके से हमारे देश की बड़े पैमाने पर आबादी की रक्षा के लिए COVID-19 संकट का एक गेम बदलने वाला समाधान हो सकता है। टीम कवरलैस को विकसित करने के लिए अन्य कपड़ा तकनीकों की भी खोज कर रही है। स्टार्ट-अप डीएसटी, बीआईआरएसी, कॉरपोरेट सीएसआर, आदि से फंडिंग समर्थन की मांग कर रहा है।

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Coronavirus India: To support the healthcare sector, IIT Delhi has launched a armor mask to protect against the coronavirus pandemic Kovid-19 as a start-up. Developed by IIT Delhi, the Developer Mask Mask is made in three layers, which is effective in making up to 98% of virus outbreaks, the armor mask equivalent to the N95 mask. The manufacture of armor masks is the result of indigenous manufacturing capabilities.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X
We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Careerindia sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Careerindia website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more