Republic Day 2022 Speech Essay: 26 जनवरी पर शानदार भाषण निबंध ड्राफ्ट

By Careerindia Hindi Desk

Republic Day Speech 2022 भारत हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाया जाता है। भारतीय इतिहास के अनुसार, 15 अगस्त 1947 को भारत आजाद हुआ और 26 जनवरी 1950 को भारत का संविधान लागू किया गया। भारतीय संविधान का निर्माण डॉ बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर द्वारा किया गया था, जिसमें 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय लगा। इस वर्ष भारत अपना 73वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। गणतंत्र दिवस परेड राजपथ से शुरू होती है और इंडिया गेट पर समाप्त होती है। कोरोनावायरस महामारी के कारण, गणतंत्र दिवस 2022 कोरोना प्रोटोकॉल के तहत मनाया जा रहा है।

 
Republic Day Speech 2022 26 जनवरी पर भाषण निबंध

गणतंत्र दिवस पूरे देश में कार्यालयों, स्कूलों, अन्य शैक्षणिक संस्थानों आदि में मनाया जाता है। गणतंत्र दिवस के अवसर पर स्कूल और कॉलेज में वाद-विवाद, भाषण, निबंध प्रतियोगिता आदि जैसे समारोह भी आयोजित किए जाते हैं। करियर इंडिया गणतंत्र दिवस पर निबंध और गणतंत्र दिवस पर भाषण लिखने का ड्राफ्ट लेकर आया है। जिसकी मदद से छात्र आसानी से गणतंत्र दिवस पर भाषण निबंध लिख व पढ़ सकते हैं।

गणतंत्र दिवस पर भाषण निबंध 1
सबसे पहले मंच पर पहुंचे और सबको नमस्कार करें, फिर अपना परिचय दें और गणतंत्र दिवस पर भाषण शुरू करें। आदरणीय प्रधानाचार्य, शिक्षकगण, अतिथिगण और मेरे प्रिय साथियों जैसा कि आप जानते हैं कि आज हम सभी अपने देश का 73वां गणतंत्र दिवस मनाने के लिए यहां एकत्रित हुए हैं। हम हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस मनाते हैं, क्योंकि 1950 में इसी दिन भारत का संविधान लागू हुआ था। यह दिन हमें हमारे स्वतंत्रता संग्राम की याद दिलाता है और कैसे हमारे देश के महान स्वतंत्रता सेनानियों ने हमें पूर्ण स्वराज दिलाने के लिए अपने प्राणों की आहुति दी। उनके संघर्ष के कारण ही आज हम एक ऐसे लोकतांत्रिक देश में रह रहे हैं। भारत की आजादी के लगभग ढाई साल बाद 26 जनवरी 1950 में भारत का संविधान लागू किया गया, जिसका निर्माण डॉ भीमराव अम्बेडकर द्वारा किया गया था। यह संविधान भारतीय नागरिकों को उनके मौलिक अधिकार प्रदान करता है, जिसमें समानता का अधिकार, स्वतंत्रता का अधिकार, शोषण के खिलाफ अधिकार, धर्म की स्वतंत्रता का अधिकार, सांस्कृतिक अधिकार, शैक्षिक अधिकार और चुनाव का अधिकार शामिल है। आज का दिन हमारे सभी नागरिकों के बीच विविधता, बंधुत्व और समानता में एकता के प्रति अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि करने का भी दिन है। मैं उन महान नेताओं और स्वतंत्रता सेनानियों को धन्यवाद देते हुए अपना भाषण समाप्त करना चाहता हूं, जिन्होंने अपने जीवन का बलिदान दिया, ताकि हम एक लोकतांत्रिक राष्ट्र में रह सकें। इसके साथ ही मुझे आप सबने मुझे अपने विचार रखने का अवसर दिया, इसके लिए आप सभी का एक बार फिर से धन्यवाद।
जय हिन्द! भारत माता की जय! वंदेमातरम्!

 

गणतंत्र दिवस पर भाषण निबंध 2
आदरणीय प्रधानाचार्य, शिक्षकगण और मेरे प्यारे दोस्तों आपको मेरा नमस्कार। आज हम अपने देश का 73वां गणतंत्र दिवस मना रहे हैं। 1947 में भारत की स्वतंत्रता के ढाई साल बाद 1950 से गणतंत्र दिवस मानना शुरू किया गया। भारतीय संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था। यह दिन हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण दिन था, क्योंकि इसका मतलब था कि में ब्रिटिश शासन से पूरी तरह आजादी मिल गई है और अब भारत का अपना संविधान कानून है। 26 जनवरी 1950 में संविधान लागू हुआ तो भारत एक पूर्ण स्वतंत्र देश बन गया। गणतंत्र दिवस लोगों के बीच एकता का दिन है। संविधान मूल रूप से एक दस्तावेज है, जो यह बताता है कि भारत सरकार कैसे काम करती है और उसमें नागरिकों के लिए क्या जिम्मेदारियां हैं। इस दिन को भारत के सार्वजनिक उत्सव के रूप में मनाया जाता है, विशेष रूप से विभिन्न जातियों और धर्मों के लोगों के लिए जो एक न्यायपूर्ण समाज में एक साथ रहना चाहते हैं, जहां सभी के साथ कानून के तहत समान व्यवहार किया जा सकता है। हमारा संविधान दुनिया में सबसे लंबा लिखित संविधान है। भारत को ब्रिटिश राज से मुक्ति के लिए कई बलिदान देने पड़े, मैं उन सभी स्वतंत्रता सेनानियों को नमन करता हूं, जिन्होंने हमारे देश को अंग्रेजी हुकूमत से आजादी दिलाई। भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है और मुझे एक भारतीय नागरिक होने पर गर्व है। मुझे बहुत ख़ुशी है कि अपने मुझे अपने विचार रखने के लिए यह मंच प्रदान किया।
जय हिन्द! भारत माता की जय! वंदेमातरम्!

गणतंत्र दिवस पूरे देश में कार्यालयों, स्कूलों, अन्य शैक्षणिक संस्थानों आदि में मनाया जाता है। यहां छात्रों और शिक्षकों के लिए गणतंत्र दिवस भाषण और निबंध के लिए कुछ विषय और विचार दिए गए हैं।

गणतंत्र दिवस पर भाषण निबंध लिखने का टॉपिक

  1. गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है?
  2. भारत के संविधान का महत्व
  3. संविधान और भारतीय नागरिकों के अधिकार
  4. डॉ बीआर अंबेडकर और भारत का संविधान
  5. गणतंत्र दिवस और संविधान दिवस में अंतर

गणतंत्र दिवस पर निबंध भाषण कैसे लिखें?
गणतंत्र दिवस कब मनाया जात रहा है से शुरू करें, फिर भारत की स्वतंत्रता के बारे में कुछ जानकारी के साथ, इसे क्यों मनाया जाता है, इस पर एक संक्षिप्त परिचयात्मक पैराग्राफ लिखें। इसके बाद अगले पैराग्राफ में भारत के संविधान के बारे में लिखें और इसे कैसे तैयार और अधिनियमित किया गया था, उसपर लिखें। भारत के संविधान का महत्व और इसकी मूल विशेषताओं के बार में लिखें। भारत के संविधान के मुख्य निर्मातों के बारे में लिखें। भारत के संविधान द्वारा सभी भारतीय नागरिकों को प्रदान किए गए मौलिक अधिकारों के महत्व के बारे में संक्षेप में लिखें। भारतीय संविधान भारतीय नागरिकों और उसके लोकतंत्र को किस प्रकार सशक्त करता है, इस पर लिखने के बाद आप अपना भाषण भाषण को समाप्त कर सकते हैं।

गणतंत्र दिवस 2022: 26 जनवरी परेड
इस दिन भारत के राष्ट्रपति राजपथ, नई दिल्ली में झंडा फहराते हैं। गणतंत्र दिवस परेड में भारत की रक्षा, सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक और सामाजिक विरासत की प्रदर्शनी की जाती है। भारत के राष्ट्रपति, भारतीय सशस्त्र बलों के कमांडर-इन-चीफ भी हैं, इसलिए उन्हें 21 तोपों की सलामी दी जाती है। हर साल 26 जनवरी पर राष्ट्रपति पद्म पुरस्कार प्रदान करते हैं, जो भारत रत्न के बाद भारत में दूसरा सबसे बड़ा नागरिक पुरस्कार है।

गणतंत्र दिवस 2022: इतिहास
भारत में 1950 से हर साल 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। आज ही के दिन 1950 में भारतीय संविधान लागू किया गया था। स्वतंत्रता के बाद भारत के संविधान को भारतीय संविधान सभा द्वारा 26 नवंबर 1949 को अपनाया गया था और 1 साल बाद 26 जनवरी 1950 को एक लोकतांत्रिक सरकार प्रणाली के साथ भारत का संविधान लागू किया गया था।

गणतंत्र दिवस 2022: महत्व
भारत का संविधान दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान है, जो भारत सरकार और भारतीय नागरिकों की प्रक्रियाओं, शक्तियों, कर्तव्यों, मौलिक अधिकारों और सिद्धांतों को निर्धारित करता है। यह दिन भारतीय नागरिकों को अपनी सरकार चुनने के लिए सशक्तिकरण/अधिकार के उत्सव का प्रतीक है। इस दिन राष्ट्रीय अवकाश होता है, गणतंत्र दिवस भारतीय संविधान की स्थापना प्रक्रिया को याद दिलाता है।

Republic Day Speech Video Download

Republic Day Speech Video Download

Republic Day Speech In Hindi गणतंत्र दिवस पर भाषण हिंदी में कैसे लिखें पढ़ें जानिए

Republic Day Essay In Hindi गणतंत्र दिवस पर निबंध हिंदी में कैसे लिखें पढ़ें जानिए

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
Republic Day Speech 26 January Essay Ideas For Students Teachers : Republic Day is celebrated every year on 26 January in India. According to Indian history, India became independent on 15 August 1947 and the Constitution of India came into force on 26 January 1950. The Indian Constitution was drafted by Dr. Babasaheb Bhimrao Ambedkar, which took 2 years, 11 months and 18 days. This year India is celebrating its 73rd Republic Day. The Republic Day Parade starts from Rajpath and ends at India Gate. Due to the coronavirus pandemic, Republic Day 2022 is being celebrated under the Corona Protocol.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X