Civil Service Day 2022 Facts राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस से जुड़े 7 तथ्य जानिए

National Civil Service Day Facts 2022 राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस भारत में हर साल 21 अप्रैल को मनाया जाता है। केंद्र सरकार हर साल प्रशासनिक सेवा से जुड़े अधिकारियों को सम्मानित करने के लिए राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस मनाया जाता है। यह दिन पूरी तरह से विभिन्न विभागों में भारत के सिविल सेवकों को समर्पित है। राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस के अवसर पर लोक प्रशासन में उत्कृष्ट कार्यों के लिए अधिकारियों को प्रधानमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री अवॉर्ड से सम्मानित किया जाता है। आइए जानते हैं राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस से जुड़े कुछ रोचक तथ्य।

 
Civil Service Day 2022 Facts राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस से जुड़े 7 तथ्य जानिए

21 अप्रैल की तारीख को राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस मनाने के लिए इसलिए चुना गया था, क्योंकि यह देश के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल द्वारा नव नियुक्त प्रशासनिक सेवा अधिकारियों को दिए गए ऐतिहासिक संबोधन की वर्षगांठ का प्रतीक है। पटेल ने 1947 में नई दिल्ली के मेटकाफ हाउस में सिविल सेवकों के लिए प्रेरक भाषण दिया था।

इस ऐतिहासिक अवसर के दौरान, सरदार पटेल ने नवनियुक्त सिविल सेवकों को "भारत के स्टील फ्रेम" के रूप में संदर्भित किया था। उन्होंने अच्छे प्रशासन के लिए नियम और दिशा-निर्देश भी निर्धारित किए।

देश का पहला राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस कार्यक्रम 21 अप्रैल 2006 को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित किया गया था। तब से हर साल राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस मनाया जा रहा है।

हर साल इस दिन, लोक प्रशासन में उत्कृष्टता के लिए प्रधान मंत्री पुरस्कार "केंद्र और राज्य सरकारों के जिलों / संगठनों द्वारा किए गए असाधारण और अभिनव कार्यों को स्वीकार करने, पहचानने और पुरस्कृत करने के लिए" प्रदान किए जाते हैं।

 
Civil Service Day 2022 Facts राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस से जुड़े 7 तथ्य जानिए

प्रधानमंत्री पुरस्कार समारोह में, सभी सिविल सेवक एक साथ आते हैं और लोक प्रशासन के क्षेत्र में लागू की जा रही अच्छी प्रथाओं का व्याख्यान करते हैं। पुरस्कार समारोह का आयोजन प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग और कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय द्वारा किया जाता है।

राष्ट्रीय सिविल सेवा दिवस पर, केंद्र अपने सिंहावलोकन के तहत विभिन्न विभागों के कार्यों पर चर्चा और मूल्यांकन करता है। ये पुरस्कार इस बात पर भी प्रकाश डालते हैं कि स्वतंत्रता के बाद से देश के विकास में सिविल सेवाओं ने कितना योगदान दिया है।

प्रधानमंत्री पुरस्कार के लिए चयनित अधिकारियों को एक पदक, स्क्रॉल और एक लाख रुपए का नकद इनाम भी दिया जाता है। यह नकद राशि उनके संबंधित विभाग के खाते में डाली जाती है। पिछले साल केंद्र को पुरस्कारों के लिए 2,253 नामांकन मिले थे। कुल संख्या में से, 183 खेलो इंडिया योजना के तहत थे, 847 नवाचार योजना के तहत थे।

Civil Service Day 2022 ये हैं राजस्थान की रहने वाली 26 महिला IAS अधिकारी

Civil Service Day 2022 ये हैं भारत की सबसे तेजतर्रार महिला IAS IPS अधिकारी

For Quick Alerts
ALLOW NOTIFICATIONS  
For Daily Alerts

English summary
National Civil Service Day Facts 2022: National Civil Service Day is celebrated every year on 21st April in India. National Civil Services Day is celebrated every year by the Central Government to honor the officers associated with the administrative service. The day is completely dedicated to the civil servants of India in various departments. On the occasion of National Civil Services Day, officers are honored by the Prime Minister with the Prime Minister's Award for outstanding work in public administration. Let us know some interesting facts related to National Civil Services Day.
--Or--
Select a Field of Study
Select a Course
Select UPSC Exam
Select IBPS Exam
Select Entrance Exam
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X